International

व्यापार-नीति संबंधी दिग्गजों ने बाइडन से निर्णायक वैश्विक नेतृत्व करने की अपील की

वॉशिंगटन, 12 मई (एजेंसी)।
वैश्विक व्यापार एवं नीति संबंधी अग्रणी हस्तियों के एक समूह ने अमेरिका के
राष्ट्रपति जो बाइडन को खुला पत्र लिखकर उनसे अपील की है कि वह कोविड-19 वैश्विक महामारी के खिलाफ
लड़ाई में निर्णायक अमेरिकी नेतृत्व दिखाएं।
वैश्विक व्यापार एवं नीति संबंधी मामलों से जुड़ी 16 हस्तियों ने भारत और फिलीपीन जैसे स्थानों पर संक्रमण के
मामले तेजी से बढ़ने पर चिंता जताई और कहा कि यदि इस वायरस से निपटा नहीं गया, तो आशंका है कि इसके
ऐसे स्वरूप विकसित हो जाएंगे, जो मौजूदा टीकों पर कारगर नहीं हों।
पत्र में कहा गया, ‘‘अमेरिका को तेजी से बढ़ती अपनी घरेलू टीका निर्माण क्षमता का लाभ उठाना चाहिए,
अतिरिक्त खुराकों को बड़ी संख्या में निर्यात करना चाहिए और टीके बनाने के लिए वैश्विक स्तर पर आ रही
तकनीकी एवं प्रौद्योगिकी संबंधी बड़ी चुनौतियों से निपटने पर काम करना चाहिए।’’

इसमें कहा गया, ‘‘डब्ल्यूटीओ में बौद्धिक संपदा मामले में जिस छूट की बात की गई है, यदि अमेरिका उसे
समर्थन देता है, तो इससे कोई खास फर्क नहीं पड़ेगा, बल्कि नुकसान हो सकता है। इसमें टीकों को सुरक्षित एवं
सफलतापूर्वक बनाने के लिए आवश्यक उचित सामग्रियों, उपकरणों, प्रशिक्षण और बुनियादी ढांचे (इसके अलावा
भविष्य में नवोन्मेषों के इससे हतोत्साहित होने) संबंधी पहलुओं पर विचार नहीं किया गया है।’’
सी वी स्टार एंड कंपनी के अध्यक्ष एवं सीईओ मॉरिस आर ग्रीनबर्ग की पहल पर यह पत्र लिखा गया, जिसमें कहा
गया है, ‘‘यदि हम सबसे कारगर साबित हुए टीकों के अतिरिक्त भंडार को निर्यात नहीं करते हैं, तो हमारे मित्र और
सहयोगी यह बात आसानी से नहीं भूलेंगे, क्योंकि उनके नागरिक संक्रमित हो रहे हैं और उनकी मौत हो रही है।’’
पत्र पर हस्ताक्षर करने वाले अन्य लोगों में एनवाईयू लैंगोन हेल्थ के न्यासी बोर्ड के अध्यक्ष केन लैंगोन, विदेश
नीति संघ के विलियम कोहेन एवं नोएल वी लतीफ और यूएस चैंबर ऑफ कॉमर्स के जॉन डी नेग्रोपोंटे, कार्ला ए
हिल्स, जॉन एफ माइस्टो, अलेक्जेंडर फेल्डमैन एवं सुजैन क्लार्क शामिल हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button