National

साइकिल चलाकर मनुष्य अपने शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकता है : जयेन्द्र रमोला

ऋषिकेश, 03 जून (एजेंसी)।
ऋषिकेश साइकिल क्लब के रेड राइडर्स ने विश्व साइकिल दिवस के अवसर पर
साइकिल से कुंजापुरी मंदिर तक यात्रा कर स्वास्थ्य के प्रति सजग रहने का लोगों को संदेश दिया।
गुरुवार को ऋषिकेश साइकिल क्लब के सदस्य जयेन्द्र रमोला ने बताया कि प्रत्येक मनुष्य नियमित रूप से
साइकिल चलाकर अपने शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ा सकता है। उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष
लॉकडाउन से ही क्लब के सभी सदस्य रेड राइडर्स के नाम से साइकिल चलाकर जन जागरुकता अभियान चला रहे
हैं। इसके चलते पिछले साल से हरिद्वार, देहरादून डाट काली मन्दिर, देहरादून टपकेश्वर मंदिर, कोडराना,
मालाखुंटी, क्यार्की, चीला सहित आज कुंजापुरी मंदिर की यात्रा की। उन्होंने कहा कि अपने स्वास्थ्य को ठीक रखने
के लिए सभी आमजन को कम से कम आधा घंटे साइकिल जरूर चलानी चाहिये। आज के कोरोना काल में जहां
दवा काम नहीं कर रही है, वहां केवल और केवल अपने शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने से ही बचाव
सम्भव है। रमोला ने बताया कि हमारे क्लब में 25 साल से 60 साल के सदस्य शामिल हैं।

रेड राइडर्स नीरज शर्मा ने कहा कि पिछले साल के लॉकडाउन से बहुत से लोगों ने साइकिलिंग शुरू की, उसी का
परिणाम था कि साइकिलिंग करने वाले अधिकतर लोग कोरोना से बचे रहें और आगे भी बचाव करने के लिये हमें
साइकिलिंग जरूर करनी चाहिये।
रेड राइडर्स एम्स में नेत्र चिकित्सक डॉ नीति गुप्ता ने बताया कि ऋषिकेश साइकिल क्लब से जुड़े मुझे अभी कुछ
माह ही हुए हैं और रोज़ कम से कम 30 किलोमीटर की और अधिक से अधिक 60 किलोमीटर तक की राइड हमने
की है। उन्होंने कहा कि मैंने कभी भी नहीं सोचा था कि मैं कभी कुंजापुरी मंदिर में साइकिल से पहुंच सकूंगी,
परन्तु ये सच हुआ। यह मेरे लिये एक बहुत बड़ी उपलब्धि है। कुंजापुरी मंदिर में साइकिल से पहुंचने वाले रेड
राइडर्स जितेन्द्र बिष्ट, सरदार बूटा सिंह, पंकज अरोड़ा, यशपाल चौहान, विपिन शर्मा, शैलेष भण्डारी, मनोज रावत,
नरेन्द्र कुकरेजा, विपिन बबलू, दीपक नेगी, देवेन्द्र राजपूत, विक्रम शेडगे, राजेश सूद, हरीश दरगन, दिग्विजय तोमर
टीम में शामिल थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button