Business

हुंडई और किआ अगले सप्ताह बंद रखेंगी प्लांट,

नई दिल्ली, 15 मई (एजेंसी)।
कोविड-19 ने ऑटो इंडस्ट्री की रफ्तार को धीमा कर दिया है। ऐसे में सेमीकंडक्टर
चिप की कमी के चलते व्हीकल प्रोडक्शन की रफ्तार सुस्त हो गई है। अब इसकी कमी के चलते हुंडई और किआ
मोटर्स अगले सप्ताह अपने प्लांट को बंद करने जा रही हैं। पहले भी कई कंपनियां सेमीकंडक्टर की सप्लाई से बुरी
तरह प्रभावित हुई हैं। कोविड और प्राकृतिक आपदा की वजह से चिप का प्रोडक्शन और सप्लाई प्रभावित हुई है।
इस छोटी सी डिवाइस के चलते कार डिलिवरी का वेटिंग पीरियड 6 महीने से भी ज्यादा हो गया है।
हुंडई मोटर ने सोमवार से मंगलवार तक टक्सन स्पोर्ट यूटिलिटी व्हीकल और नेक्सो हाइड्रोजन फ्यूल-सेल इलेक्ट्रिक
व्हीकल का प्रोडक्शन करने वाले नंबर 5 उल्सान प्लांट, मंगलवार को अवंते कॉम्पैक्ट और वेन्यू सब-कॉम्पैक्ट का
प्रोडक्शन करने वाले नंबर 3 उल्सान प्लांट में काम रोकने का फैसला किया है।
कंपनी पहले भी बंद कर चुकी प्लांट
हुंडई की तरफ से 7 से 14 अप्रैल के बीच कोना सब-कॉम्पैक्ट एसयूवी और आईओनिक 5 (IONIQ) ऑल-इलेक्ट्रिक
कार बनाने वाले नंबर 1 उल्सान प्लांट को बंद करने का फैसला लिया गया था। इसके साथ ही नंबर 4 उल्सान
प्लांट, जो पोर्टर पिकअप ट्रक को रोल आउट करता है, उसे भी इलेक्ट्रॉनिक पार्ट्स की कमी के कारण 6 से 7 मई
तक बंद करना पड़ा था।
क्या है सेमीकंडक्टर?
ये आमतौर पर सिलिकॉन चिप्स होते हैं। इनका इस्तेमाल कम्प्यूटर, सेलफोन, गैजेट्स, व्हीकल और माइक्रोवेव
ओवन तक जैसे कई प्रोडक्ट्स में होता है। ये किसी प्रोडक्ट की कंट्रोलिंग और मेमोरी फंक्शन को ऑपरेट करते हैं।
कोरोनाकाल में गैजेट्स की डिमांड भी तेजी से बढ़ी है। ऐसे में सेमीकंडक्टर की सप्लाई गैजेट्स कंपनियों को ज्यादा
जा रही है। वर्क फ्रॉम होम के लिए डेस्कटॉप और लैपटॉप बिके। तो ऑनलाइन स्टडी के लिए मोबाइल और टैबलेट

की मांग रही। फिट रहने के लिए लोगों ने फिटनेस बैंड भी खरीदे। वहीं, गेमिंग डिवाइस के साथ दूसरे गैजेट्स भी
जमकर बिके। इन सभी में इलेक्ट्रॉनिक्स पार्ट्स और सेमीकंडक्टर का इस्तेमाल होता है।
हुंडई के दुनियाभर में 17 प्लांट
योनहाप समाचार एजेंसी के मुताबिक, सोनाटा और ग्रैंडियर सेडान को असेंबल करने वाले इसके असान प्लांट को
12-13 अप्रैल और फिर 19-20 अप्रैल को भी चिप की कमी के चलते बंद किया गया था। हुंडई के 7 घरेलू प्लांट
हैं, जिसमें उल्सान में 5, असान में एक और जोंजू में एक प्लांट शामिल है। इसके अलावा कंपनी के 10 विदेशी
प्लांट हैं। जिनमें 4 चीन में और संयुक्त राज्य अमेरिका, चेक गणराज्य, तुर्की, रूस, भारत और ब्राजील में एक-एक
प्लांट है। इन सभी प्लांट की क्षमता 55 लाख गाड़ियां तैयार करने की है।
किआ के दुनियाभर में 15 प्लांट
हुंडई की सहयोगी किआ भी सेमीकंडक्टर की कमी से जूझ रही है। किआ के कोरिया में 8 प्लांट हैं। इसके अलावा
इसके 7 प्लांट विदेशों में हैं। जिनमें 3 चीन में और संयुक्त राज्य अमेरिका, स्लोवाकिया, मैक्सिको और भारत एक-
एक स्थित हैं। इनकी कुल क्षमता 38.4 लाख यूनिट है।
दूसरी तिमाही में भी बंद हो सकते हैं प्लांट
अधिकारियों का कहना है कि चिप की कमी से कार बनाने वाली कंपनी की आय पर भी असर होगा। दूसरी तिमाही
में प्लांट को बंद करने की संभावना है। क्योंकि प्राकृतिक आपदाओं और आग लगने जैसी घटनाओं के बाद चिप
मैन्युफैक्चर्रस को प्रोडक्शन शुरू करने में वक्त लग सकता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button